EXCLUSIVE: ऋतिक रोशन VS कंगना रनौत ई-मेल केस- कंगना के खिलाफ बयान दर्ज कराएंगे ऋतिक रोशन हुआ समन जारी।

कंगना रनौत और ऋतिक रोशन के बीच का विवाद एक बार फिर से सुर्खियों में आता दिख रहा है। ऋतिक रोशन इस मामले में अपना बयान पुलिस के सामने दर्ज कराने जा रहे हैं। इसी बीच कंगना रनौत ने एक बार फिर ऋतिक रोशन की हंसी उड़ाते हुए ‘सिली एक्स’ कहकर मामले को फिर से तूल दिया है।

मुंबई क्राइम ब्रांच की क्राइम इंटेलिजेंस यूनिट (CIU), ऋतिक रोशन (Hrithik Roshan) बनाम कंगना रनौत (Kananga Ranaut) ईमेल मामले की जांच में एक अहम कदम उठाया है। मुंबई पुलिस की क्राइम इंटेलिजेंस यूनिट (Crime Intelligence Unit) ने इस मामले में अपना बयान दर्ज कराने के लिए शुक्रवार को ऋतिक रोशन को समन जारी किया है।

2016 में कंगना रनौत से जुड़े एक ई-मेल केस में ऋतिक रोशन को ये समन भेजा गया है। एक्ट्रेस कंगना रनौत से जुड़े इस मामले की जांच पहले साइबर पुलिस कर रही थी लेकिन पिछले साल दिसंबर में 4 साल पुराने केस को क्राइम ब्रांच इंटेलिजेंस यूनिट (सीआईयू) को ट्रांसफर कर दिया गया था।

ऋतिक रोशन ने ही साल 2016 में यह मुकदमा दर्ज कराया था। उन्होंने ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया था कि किसी अज्ञात व्यक्ति ने फर्जी ई-मेल आईडी से उनके नाम पर कंगना रनौत को मेल भेजे हैं। जब इस आरोप की जानकारी कंगना को हुई तो उन्होंने कहा कि जिस आईडी से उन्हें ई-मेल किए गए थे वह आई-डी उन्हें ऋतिक रोशन ने ही दिया था और 2014 तक वे उसी ई-मेल आईडी से उनसे बात करते थे।

2016 में, ऋतिक रोशन ने कंगना रनौत को एक कानूनी नोटिस भेजा था क्योंकि उन्होंने एक्टर को कथित रूप से सिली एक्स कह दिया था। ऋतिक रोशन ने उनके और कंगना के बीच किसी भी तरह के रिश्ते के लिए इनकार किया था दोनों कलाकारों ने काइट्स (2010) और क्रिश 3 (2013) जैसी फिल्मों में काम किया था। रोशन ने तब दावा किया था कि कंगना उन्हें बेतुके ईमेल भेज रही थीं। 2016 में साइबर सेल ने ऋतिक रोशन के लैपटॉप और फोन को भी जांच के लिए अपने कब्जे में ले लिया था। यह मामला पहले मुंबई पुलिस के साइबर सेल के पास था। ऋतिक रोशन के वकील के विशेष अनुरोध पर दिसंबर 2020 में इसे CIU में ट्रांसफर कर दिया है।

Leave a Reply