Agra : ऑटो में पति को मुंह से सांस देती रही महिला, जान नहीं बचा पाई

कोरोना वायरस की दूसरी लहर के गहराते संकट के बीच देश के कोने-कोने से ऑक्सीजन की किल्लत की खबरें आ रही हैं. ऑक्सीजन की कमी से हजारों लोग अपनी जान गंवा रहे हैं. एक ऐसी ही खबर उत्तर प्रदेश से आई है. यहां एक महिला अपने बीमार पति को ऑटो में लेकर SN मेडिकल कॉलेज पहुंची. उसके पति को सांस लेने में बहुत तकलीफ हो रही थी. पति को अस्पताल में भर्ती नहीं किया गया, तो महिला ने अपने मुंह से पति को ऑक्सीजन देने का प्रयास किया. इसके बाद भी वो अपने पति की जान नहीं बचा पाई.

रिपोर्ट के मुताबिक महिला का नाम रेनू सिंघल है. 23 अप्रैल को रेनू के पति रवि सिंघल की तबीयत अचानक से बिगड़ गई. रेनू अपने परिजनों के साथ रवि को लेकर तुरंत अस्पताल भागीं. SN मेडिकल कॉलेज जाने से पहले उन्होंने श्रीराम हॉस्पिटल, साकेत हॉस्पिटल और केजी नर्सिंग होम में अपने पति को भर्ती कराने की गुहार लगाई. रिपोर्ट के मुताबिक इन अस्पतालों में बेड खाली नहीं थे, इसलिए रवि को भर्ती नहीं किया गया.

पति की मौत के बाद रेनु सिंघल

आखिर में रेनू ने ऑटो किया और अपने पति को लेकर SN मेडिकल कॉलेज पहुंची. वहां पर भी उनके पति को भर्ती नहीं किया गया. इस बीच उनके पति को सांस लेने में लगातार दिक्कत होती रही. रेनू अपने पति को मुंह से सांस देने का प्रयास करती रहीं. लेकिन उनके पति ने दम तोड़ दिया. आखिर में मेडिकल कॉलेज ने उनके पति को मृत घोषित कर दिया. जिसके बाद रेनू फफकर रो पड़ीं. उनके पति 47 साल के थे. रेनू शहर के आवास विकास सेक्टर सात में रहती हैं.

Leave a Reply