Delhi Oxygen Crisis: सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर का बुरा हाल, 500 बेड वाले सेंटर में सिर्फ 150 मरीज, पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं

दिल्ली में लगातार कोरोना मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है. मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए राष्ट्रीय राजधानी के छतरपुर (Chhatarpur) इलाके में 26 अप्रैल से सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर (Sardar Patel Covid Care Center) शुरू हुआ. अब इसका बुरा हाल है. यह 500 बेड वाला सेंटर हैं. कहा गया था कि यहां सुविधाएं होंगी. यहां सिर्फ 150 मरीज भर्ती होने आए क्योंकि और कोई विकल्प नहीं था. जो भर्ती हैं वह भी अब यहां से पिंड छुड़ाकर भागना चाहते हैं, क्योंकि यहां बदइंतजामी है. 350 बेड खाली हैं. जो लोग भर्ती हैं और वहां से जाना चाहते हैं, तो उन्हें डिस्चार्ज नहीं किया जा रहा है. यह कोविड केयर सेंटर दिल्ली सरकार और ITBP द्वारा चलाया जा रहा है.

एनडीटीवी संवाददाता राजीव रंजन का कहना है कि सरदार पटेल में बाकी मरीजों की इसलिए एंट्री नहीं हो पा रही है क्योंकि उनके लिए यहां ऑक्सीजन की सुविधा नहीं है. आईटीबीपी का कहना है कि इसे लेकर वो दिल्ली सरकार को बता चुका है, चूंकि दिल्ली सरकार की ओर से ऑक्सीजन नहीं दिये जाने की वजह से सेंटर में 150 मरीजों का दाखिला हो पा रहा है. सेंटर के अंदर दाखिल हो रहे मरीजों की भी हालत अच्छी नहीं है. अंदर मरीजों का कहना है कि जिस तरह से उनका देखरेख होना चाहिए उस तरह से नहीं हो पा रहा है.

सेंटर के बाहर खड़े रजत का कहना है कि अंदर का हालत बहुत बुरा है. न मरीज को खाना मिल पा रहा है और ना ही दवाई. रजत के दादा कोविड सेंटर में भर्ती हैं. ऐसे ही तमाम मरीजों के परिजनों की शिकायतें हैं जो यहां अपने मरीज को डिस्चार्ज कराने आए हैं.

इससे पहले बीते दिन दिल्ली में कोविड फैसिलिटी (Covid Facility) के बाहर एक व्यक्ति फुटपाथ पर रो रहा था क्योंकि उसकी मां का शव पास में ही खड़े एक ऑटो-रिक्शे में पड़ा था. उसने कोविड फैसिलिटी में मां का इलाज कराने के लिए कई घंटों तक संघर्ष किया. 28 वर्षीय मुकुल व्यास अपनी मां को आज सुबह दक्षिणी दिल्ली के सरदार वल्लभ भाई पटेल कोविड केयर सेंटर में ले आए थे लेकिन सेंटर के गेट नहीं खुले.

Leave a Reply