Government Scholarship best Schemes : आपकी एजुकेशन में काम आएंगी भारत सरकार द्वारा दी गई ये स्कॉलरशिप्स

Government Scholarship Schemes : शिक्षा मंत्रालय (Education Ministry), भारत सरकार द्वारा हर वर्ष स्कूल और कॉलेज लेवल पर स्टूडेंट्स की पढ़ाई में आर्थिक मदद के लिए कई स्कॉलरशिप्स दी जाती हैं। ये स्कॉलरशिप्स अलग-अलग प्रकारकी हैं। यहां शिक्षा मंत्रालय की ऐसी 5 अहम स्कॉलरशिप्स के बारे में बताया जा रहा है जो स्कूल से लेकर यूनिवर्सिटी तक आपके काम आ सकती हैं।

Government Scholarship Schemes : शिक्षा मंत्रालय (Education Ministry), भारत सरकार द्वारा हर वर्ष स्कूल और कॉलेज लेवल पर स्टूडेंट्स की पढ़ाई में आर्थिक मदद के लिए कई स्कॉलरशिप्स दी जाती हैं। ये स्कॉलरशिप्स अलग-अलग प्रकारकी हैं। यहां शिक्षा मंत्रालय की ऐसी 5 अहम स्कॉलरशिप्स के बारे में बताया जा रहा है जो स्कूल से लेकर यूनिवर्सिटी तक आपके काम आ सकती हैं।

1. Central Sector Scheme of Scholarship (सेंट्रल सेक्टर स्कीम ऑफ स्कॉलरशिप) (CSSS)

Central Sector Scheme of Scholarship (सेंट्रल सेक्टर स्कीम ऑफ स्कॉलरशिप) (CSSS)


यह स्कॉलरशिप कॉलेज व यूनिवर्सिटी स्टूडेंट्स के लिए है। ऐसे स्टूडेंट्स को 12वीं कक्षा पास कर चुके हैं और कॉलेज या यूनिवर्सिटी में उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं। आर्थिक कमजोर वर्ग से आने वाले मेधावी स्टूडेंट्स इस स्कॉलरशिप का लाभ पा सकते हैं।

हर साल शिक्षा मंत्रालय इस योजना के तहत 82 हजार नए स्कॉलरशिप्स देता है। इसके तहत सालाना 10 हजार से लेकर 20 हजार रुपये तक छात्रवृत्ति दी जाती है। अगस्त से अक्टूबर के बीच इसके लिए आवेदन आमंत्रित किए जाते हैं। आवेदन नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल (National Scholarship Portal) के माध्यम से ऑनलाइन करना होता है।

किन्हें मिलेगा लाभ – ऐसे स्टूडेंट्स जिन्होंने 12वीं में 80 परसेंटाइल या ज्यादा अंक प्राप्त किए हों, फुल टाइम कोर्स कर रहे हों, पारिवारिक आय 8 लाख रुपये से ज्यादा नहीं होना चाहिए।

2. नेशनल मीन्स कम मेरिट स्कॉलरशिप (National Means cum Merit Scholarship)( NMCMS)

नेशनल मीन्स कम मेरिट स्कॉलरशिप (National Means cum Merit Scholarship)( NMCMS)


आर्थिक कमजोर वर्ग से आने वाले छात्र-छात्राएं 8वीं कक्षा के बाद इसका लाभ उठा सकते हैं। हर साल देशभर में एक लाख विद्यार्थियों को यह छात्रवृत्ति दी जाती है। प्रति स्टूडेंट सालाना 12 हजार रुपये मिलते हैं। अगस्त से अक्टूबर माह के बीच इसके लिए आवेदन आमंत्रित किए जाते हैं। नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल (NSP) के जरिए ऑनलाइन आवेदन करना होता है।

किन्हें मिलेगा लाभ – इसके लिए 8वीं में कम से कम 55 फीसदी अंक प्राप्त होने चाहिए। इसके लिए सेलेक्शन टेस्ट में शामिल होना भी जरूरी है। सेलेक्शन टेस्ट में शामिल होने के लिए 7वीं कक्षा में कम से कम 55 फीसदी अंक अनिवार्य है। पारिवारिक आय सालाना 1.50 लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए।

3. एआईसीटीई प्रगति स्कॉलरशिप (AICTE Pragati Scholarship)( APS)

. एआईसीटीई प्रगति स्कॉलरशिप (AICTE Pragati Scholarship)( APS)


यह स्कॉलरशिप सिर्फ गर्ल स्टूडेंट्स के लिए है। एक परिवार में अधिकतम दो लड़कियों को इस स्कॉलरशिप का लाभ मिल सकता है। हर साल ऐसी 5000 स्कॉलरशिप सरकार द्वारा दी जाती है। इसके तहत लाभार्थी को सालाना 50 हजार रुपये व अन्य सुविधाएं मिलती हैं।

सितंबर से अक्टूबर के बीच इसके लिए आवेदन आमंत्रित किए जाते हैं। नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल के जरिए ऑनलाइन आवेदन करना होता है।

किन्हें मिलेगा लाभ – ऐसी छात्राएं जो किसी टेक्निकल डिग्री या डिप्लोमा कोर्स में फर्स्ट या सेकंड ईयर में पढ़ाई कर रही हैं। जिनका उस कोर्स में एडमिशन 12वीं के मार्क्स के आधार पर लैटरल एंट्री के जरिए हुआ हो। वार्षिक पारिवारिक आय 8 लाख रुपये या इससे कम होनी चाहिए।

4. एआईसीटीई सक्षम स्कॉलरशिप (AICTE Saksham Scholarship)

एआईसीटीई सक्षम स्कॉलरशिप (AICTE Saksham Scholarship)


विशेष रूप से सक्षम विद्यार्थियों के बीच तकनीकि शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए यह छात्रवृत्ति योजना चलाई जा रही है। इसका लाभ उन छात्र-छात्राओं को मिलता है जो विशेष रूप से सक्षम (Specially abled) हैं और किसी टेक्निकल डिग्री या डिप्लोमा कोर्स की पढ़ाई कर रहे हैं। इसके तहत हर लाभार्थी को सालाना 50 हजार रुपये छात्रवृत्ति व अन्य सुविधाएं दी जाती हैं। सितंबर-अक्टूबर के बीच आवेदन मांगे जाते हैं। नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल के जरिए ऑनलाइन आवेदन करना होता है।

किन्हें मिलेगा लाभ – ऐसे विद्यार्थी जो कम से कम 40 फीसदी दिव्यांग हों, किसी एआईसीटीई संबद्ध संस्थान में डिग्री या डिप्लोमा कोर्स में लैटरल एंट्री के जरिए फर्स्ट ईयर में एडमिशन पाया हो, पारिवारिक आय सालाना 8 लाख रुपये या इससे कम हो।

5. प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप (Prime Minister’s Research Fellowship) (PMRF)

प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप (Prime Minister’s Research Fellowship) (PMRF)


स्टूडेंट्स में शोध की प्रवृत्ति को बढ़ावा देने के लिए यह फेलोशिप दी जाती है। पीएमआरएफ अनुदान के लिए सक्षम किसी संस्थान में पीएचडी प्रोग्राम में दाखिला लेने वाले स्टूडेंट्स को इसका लाभ मिलता है। हालांकि स्टूडेंट के लिए इस फेलोशिफ की गाइडलाइंस के अनुसार अन्य अहर्ताएं प्राप्त होना भी जरूरी है। इसके तहत 80 हजार रुपये प्रति माह स्टाइपेंड दी जाती है।

Leave a Reply