COVID-19 Vaccination: कोविन पोर्टल पर अब नहीं होगी डेटा एंट्री में गलती, आज से OTP सिस्टम शुरू

vaccine

कोरोना वायरस टीकाकरण के लिए कोविन पोर्टल को अब पहले से ज्यादा सुरक्षित बना दिया गया है. वहीं बता कि आज से कोविन पोर्टल में एक नया फीचर शुरू कर किया गया है. सिस्टम में आज से चार अंकों का ओटीपी वाला नया फीचर जोड़ा गया है ताकि टीकाकरण की स्थिति के बारे में डेटा एंट्री खामियों को कम किया जा सके.

वहीं इस बारे में मंत्रालय ने बताया कि , कुछ मामलों में यह बात सामने आई है कि कोविन पोर्टल के माध्यम से टीकाकरण के लिए समय लेने वाले कुछ लोग टीका लगवाने के लिए तय तारीख पर नहीं पहुंच सके, लेकिन उन्हें एसएमएस से जानकारी मिल गई कि उन्हें टीका लगाया जा चुका है. ऐसा मुख्यत: इसलिए होता है क्योंकि टीका लगाने वाले शख्स ने गलत तरीके से नागरिक का टीकाकरण दिखा दिया. ये टीका लगाने वाले की तरफ से डेटा एंट्री में खामी की घटना है.

उसको लेकर मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा कि, ‘इस तरह की खामियों को खम करने और नागरिकों को होने वाली असुविधा को दूर करने के लिए कोविड प्रणाली में आठ मई से चार अंकों वाले सुरक्षा कोड की शुरुआत की जा रही है.’

अब टीका लगाने वाला व्यक्ति लाभार्थी से चार अंकों का ओटीपी पूछेगा और फिर टीकाकरण की सही स्थिति को कोविन पोर्टल में दर्ज करने के लिए वहां कोड डालेगा. नया फीचर उन्हीं नागिरकों पर लागू होगा जिन्होंने टीका लगवाने के लिए ऑनलाइन समय लिया है. चार अंकों वाला ओटीपी अप्वाइंटमेंट वाली पावती पर भी प्रिंट होगा और टीका लगाने वाले को इसकी जानकारी नहीं होगी. कोविन पोर्टल पर अप्वाइंटमेंट बुक हो जाने के बाद ये कोड लाभार्थी के मोबाइल पर एसएमएस से भी भेजा जाएगा.

Leave a Reply