ऑक्सीजन सिलिंडर जमाखोरी के मामले में आरोपी कारोबारी नवनीत कालरा(KHAN CHACHA) के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी

कोरोना महामारी में जहाँ लोग एक दूसरे की मदद कर रहे है वहीं कालाबाजारी चरम पर हो रही है। एक तरफ देश कोरोना महामारी में स्वास्थ्य सुविधाओं की कमी से जूझ रहा है तो दूसरी तरफ बड़े पैमाने पर स्वास्थ्य़ उपकरणों की जमाखोरी और कालाबाजारी सामने आ रही है. शुक्रवार को दिल्ली पुलिस ने दो रेस्टोरेंट पर छापा मारकर 100 से ज्यादा ऑक्सीजन कंसंट्रेटर जब्त किए. पुलिस अधिकारियों के मुताबिक 96 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर ‘खान चाचा’ रेस्टोरेंट से और नौ ऑक्सीजन कंसंट्रेटर ‘टाउन हॉल’ रेस्टोरेंट से बरामद किए गए हैं. उन्होंने बताया कि दोनों रेस्टोरेंट खान मार्केट इलाके में हैं. अधिकारियों ने बताया कि 100 ऑक्सीजन कंसंट्रेटरकी बरामदगी साउथ दिल्ली की लोधी कॉलोनी से चार लोगों- गौरव, सतीश सेठी, विक्रांत और हितेश- की गिरफ्तारी के बाद हुई है जिनपर ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की कालाबाजारी करने का आरोप है. इन ऑक्सीजन कंसंट्रेटर को 16 हजार रुपये में खरीदकर 50 हजार रुपये में बेचा जा रहा था.

उन्होंने बताया कि इन चार आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद 419 ऑक्सीजन सांद्रक जब्त किए गए हैं जिनकी कालाबाजारी की जानी थी. पुलिस ने बताया कि पूछताछ के तौर हितेश ने बताया कि कालाबाजारी के लिए इन ऑक्सीजन कंसंट्रेटर को इन रेस्टोरेंट में जमा कर रखा गया है जिसमें बाद पुलिस ने छापेमारी की यह कार्रवाई की और इन उपकरणों को बरामद किया. पुलिस ने बताया कि इन दोनों रेस्तरां के मालिक का नाम नवनीत कालरा है और उसकी मामले में भूमिका की जांच की जा रही है. कालरा का एक और रेस्तरां है जिसपर पुलिस ने बुधवार को छापेमारी की कार्रवाई कर ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बरामद किए थे.

पुलिस उपायुक्त ने बताया कि पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि छतरपुर में एक और गोदाम है जहां पर छापेमारी कर 387 और ऑक्सीजन सांद्रक बरामद किए गए जिन्हें कालाबाजारी कर ऊंचे दाम पर बेचा जा रहा था.

दिल्ली पुलिस की कोशिश है कि जल्द से जल्द आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाए. हालांकि अभी तक नवनीत कालरा के बारे में कोई सुराग हाथ नहीं लगा है. आरोपी की गिरफ्तारी के लिए हर संभावित ठिकानों पर दबिश दी जा रही है.

नवनीत कालरा के बारे में जानकारी हासिल करने और लोकेशन ट्रैक करने के लिए पुलिस ने उसके मोबाइल फोटो को सर्विलांस पर रख दिया है. खान मार्केट स्थित उसके रेस्टोरेंट पर पुलिस की छापेमारी के तुरंत बाद ही उसका मोबाइल बंद हो गया था.

छानबीन के दौरान पुलिस को पता चला है कि आरोपी अपने पूरे परिवार के साथ दो लग्जरी गाड़ियां लेकर दिल्ली से भाग निकला है. पुलिस को शक है कि वह उत्तराखंड में किसी जगह पर छिपा हुआ है.

हिंदी समाचार और अधिक ट्रेंडिंग न्यूज़ की जानकारी के लिए फॉलो करे The News Voice – Voice of Tomorrow

Leave a Reply