लैपटॉप खरीदते समय मुझे किन बातों पर ध्यान देना चाहिए।?

मार्किट में चुनने के लिए इतने सारे लैपटॉप की वैरायटी देख कर कोई भी कंफ्यूज हो जाएगा की कौन सा लैपटॉप ले और कौन सा न ले। हम अपने बजट के हिसाब से लैपटॉप की सूचि भी बना लेते है फिर भी ,किसी लैपटॉप की CPU स्पीड ,Graphic साइज ,हार्ड ड्राइव का साइज ,Ram साइज का अंतर देख कर हमारा दिमाग़ और कंफ्यूज हो जाता हैं।

इसीलिए आपका कन्फूशन मिटाने के लिए हम इस आर्टिकल में बातएंगे की आप किन चीज़ो पे ध्यान देकर अपने मन के अनुसार लैपटॉप खरीद सकते हैं ।

Intel’s Honeycomb Glacier concept

  1. साइज (Size )

    जब लैपटॉप की बात आती है, तो साइज मायने रखता है। लैपटॉप खरीद नें से पहले इस बात पर ध्यान दे की आपको लैपटॉप की साइज कितनी चाहिए।

    अगर आप एक गेमिंग लैपटॉप लेना चाहते है तो उसका साइज कम से कम 15 इंच तक तो होना चाहिए क्युकी गेमिंग करते समय बड़ी स्क्रीन की कुछ बात ही अलग होती हैं। इसलिए कई कंपनी 18 इंच तक लैपटॉप दे रही हैं।

    लेकिन आप डेली जॉब करने वाले और स्टूडेंट है तो आप छोटे साइज के लैपटॉप खरीद सकते हैं क्युकी उनका साइज कम होने के कारण उनका वजन कम होता है। डेली ट्रेवल में कम स्क्रीन वाले लैपटॉप अच्छे होते हैं। छोटे साइज के लैपटॉप 12.5-inches और 13.3-inches के बीच में होते हैं।

    परन्तु इस बात पे जरूर ध्यान देने की छोटे साइज के लैपटॉप ग्राफ़िक कार्ड और हाई एन्ड प्रोसेसर को सपोर्ट नहीं कर पाते जैसे की बड़े स्क्रीन साइज लैपटॉप में मिलता हैं
    laptop size

  2. स्क्रीन एंड कीबोर्ड (Screen and Keyboard)

    आप शायद काम करते समय में अपने लैपटॉप स्क्रीन को घंटों तक घूरते रहे हैं, इसलिए आप शायद यह सुनिश्चित करे की उसमे एंटी गलरे प्रोटेक्टर हो।

    अगला, किसी भी लैपटॉप पर रिज़ॉल्यूशन को देखना सुनिश्चित करें जिसे आप खरीदने की सोच रहे हैं। 1920×1080-पिक्सेल रिज़ॉल्यूशन (Full HD) को कम से कम माना जाना चाहिए। इससे से नीचे लेने में कोई फायदा नहीं हैं। आप गेमर है तो लैपटॉप लेते समय ये चेक कर ले की उस लैपटॉप की रिफ्रेश रेट कितना हैं।क्यूकी जितना उसका रिफ्रेश रेट होगा उतनी आसानी आपको गेम खेलने में होगी। गेमिंग लैपटॉप के लिए रिफ्रेश रेट 120 Hz तो होना चाहिए।

    लैपटॉप में कीबोर्ड अहम भूमिका निभाता हैं। इसलिए उसकी quality के बारे में जरूर ध्यान दे। और अगर आपका लैपटॉप बैकलिट(Backlit) कीबोर्ड दे तो ये बहुत अच्छा होगा क्यूकि रात के समय बैकलिट कीबोर्ड से लिखने और बटन ढूढ़ने में आसानी होती हैं।

  3. CPU

    कई लैपटॉप यूजर के लिए, एक इंटेल कोर प्रोसेसर मल्टीटास्किंग और मल्टीमीडिया कार्यों की बात आने पर सबसे अच्छा प्रदर्शन प्रदान करता है। कोर i3-कोर आधारित नोटबुक आमतौर पर एंट्री-लेवल सिस्टम में पाए जाते हैं, जबकि कोर i5 मेनस्ट्रीम के अधिकांश कंप्यूटरों को बनाता है।

    अगर आपको लैपटॉप से बेस्ट परफॉरमेंस चाहिए तो i7 कोर प्रोसेसर को चुन सकते हैं। कई हाई एन्ड लैपटॉप i9 कोर प्रोसेसर भी दे रही हैं। लेकिन मार्कीट में एक और प्रोसेसर आ गया जो इंटेल को टक्कर दे रहा हैं। जिसका नाम AMD’s Ryzen Mobile CPUs जो की इंटेल के प्रोसेसर से सस्ता और बल्कि परफॉरमेंस के मामले में उसी के बराबर ही हैं।

    CPU की परफॉर्मेंस उसकी clock speed से पहचानी जाती हैं , इसलिए लैपटॉप लेते उसकी clock speed स्पीड देख ले वो कितनी GHz की हैं।
    नॉन गेमिंग लैपटॉप के 2.4 GHz तो होना ही चाहिए और गेमिंग लैपटॉप के लिए 3.5 GHz से 4.0 GHz के बीच होना चाहिए।


  4. Ram

    आज के समय 4 Gb Ram से कुछ नहीं होता अगर आप लैपटॉप सिर्फ सर्फिंग और ब्राउज़िंग के लिए ले रहे हो तो । अधिक रैम एक ही समय में कई एप्लीकेशन को सकता हैं। और ढेर सारे डेटा के लिए किसी भी समय सिस्टम को चालने में मदद करता हैं ,जो फोटो या वीडियो हैवी एडिटिंग करने जैसे कार्यों के लिए काम में आता है। इसलिए 8Gb Ram तो आपके लेपटोप के लिए कम से कम तीख से चलने के लिए चाहिए। अगर आप हैवी एप्लीकेशन चालते हो तो 12 -16 Gb और अगर आप हैवी गेमर हों तो आपको 32 Gb चाहिए।

    लैपटॉप में Ram देखते से समय उसपे ये जरूर देखे की वो कौन से DDR जनरेशन का हैं। रीसेंट जनरेशन वाला DDR4 हैं। अगर कोई लैपटॉप में DDR3 दे रहे है तो उस लैपटॉप को न ही खरीदे। Ram सिस्टम को फ़ास्ट करता हैं। लेकिन Ram की खुद कितना फ़ास्ट है उसके लिए उसकी frequency देखे वो कितने MHz की हैं। बजट लैपटॉप के लिए 2,300MHz or 2,666MHz RAM होना ही चाहिए। हैवी एप्लीकेशन यूजर और हैवी गेमर 3,600MH-4,000 MHz+ RAM के बीच राम देख सकते हैं |

  5. स्टोरेज (Storage)

    लैपटॉप लेते समय में स्टोरेज अहम भूमिका निभाता है। हम सोचते की ज्यादा स्टोरेज होगा तो फायदा होगा परन्तु 1Tb का हार्ड डिस्क ड्राइव (HDD) कंप्यूटर को स्लो बना देता हैं। उसकी Read और write की क्षमता SSD से कम होता हैं। चलते समय बहुत आवाज़ भी करता हैं।

    सॉलिड स्टेट ड्राइव (SSD) HDD से फ़ास्ट होता हैं। ये आपके लैपटॉप को फ़ास्ट Boot up होने में मदद करता है ,एप्लीकेशन को जल्दी लोड करता हैं।इसमें बस स्टोरेज कैपेसिटी की कमी हैं , SSD महंगी बहुत हैं इसलिए ये लैपटॉप में 128 ,256 और 500Gb तक ने आता हैं।

    तो आप लैपटॉप लेते है तो उस लैपटॉप वैरिएंट में जाए जिसमे दोनों SSD और HDD का सपोर्ट देते हों। SSD चाहे कम स्टोरेज की भी हो लेकिन वो आपके लैपटॉप को फ़ास्ट रखने में मदद कर सकती हैं।

  6. बैटरी (Battery)

    लैपटॉप लेते से समय आप देखते होंगे की उसमे लिखा होता की लैपटॉप 6-9 Hr चार्ज रहता हैं। लेकिन वो रियल वर्ल्ड में आपके ऊपर है की आप कैसे यूज़ करते हैं। ये Wh आंकड़े जितने बड़े हैं, बैटरी उतनी ही लंबी हो सकती है।, 44Wh से 50Wh की रेटिंग वाली बैटरी आपको अच्छा परिणाम देगी।

हिंदी समाचार और अधिक ट्रेंडिंग न्यूज़ की जानकारी के लिए फॉलो करे The News Voice – Voice of Tomorrow

Leave a Reply