Corona Vaccine Crisis : भारत बायोटेक की कोवैक्सीन ने दिल्ली को और खुराक देने से किया इंकार – मनीष सिसोदिया

ऑक्सीजन के बाद अब दिल्ली को वैक्सीन की कमी से जूझना पड़ रहा है. दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि भारत बायोटेक और सीरम इंस्टीट्यूट से कुल 1.34 करोड़ वैक्सीन की मांग की गई थी लेकिन कोवैक्सीन बनाने वाली कंपनी भारत बायोटेक ने और वैक्सीन देने से इनकार कर दिया है. उपमुख्यमंत्री ने कहा कि कोवैक्सीन ने कल चिट्ठी लिखकर वैक्सीन देने से इंकार कर दिया है क्योंकि वैक्सीन उपलब्ध नहीं है.

मनीष सिसोदिया ने भारत बायोटेक की ओर से भेजी गई चिट्ठी पढ़ी. उसमें लिखा है, ‘हम संबंधित सरकार के अधिकारियों के निर्देशों के अनुसार राज्यों को वैक्सीन दे रहे हैं. जितना केंद्र कह रहा है उससे ज्यादा वैक्सनी नहीं दे सकते.’ सिसोदिया ने आगे कहा, “जाहिर सी बात है ये केंद्र सरकार के अधिकारी हैं. अब कोवैक्सीन की सप्लाई दिल्ली को बंद है. उन्होंने साफ लिखित में कहा है कि केंद्र सरकार के हिसाब से वैक्सीन देनी है. मतलब कितनी वैक्सीन किस राज्य को जाएगी, कितनी विदेशों को भेजी जाएगी, ये केंद्र सरकार तय कर रही है.”

उन्होंने आगे कहा कि ‘कोवैक्सीन’ का निर्माण करने वाली कम्पनी का पत्र स्पष्ट करता है कि केन्द्र सरकार ही यह फैसला करती है कि किस राज्य को टीके की कितनी खुराक मिलेगी। सिसोदिया ने कहा कि हम केन्द्र से अनुरोध करते हैं कि स्थिति की गंभीरता समझे, टीकों का निर्यात बंद करे और टीके का ‘फॉर्मूला’ अन्य कम्पनियों के साथ भी साझा करे।

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री ने कहा, ‘हमारे पास वैक्सीन का जो भी स्टॉक था खत्म हो गया है. हमारे पास कोविशिल्ड के जो सेंटर थे वे चल रहे हैं. कोवैक्सीन के सेंटर हमें बंद करने पड़े हैं. 17 स्कूलों में 100 से ज्यादा कोविशील्ड के सेंटर बंद करने पड़े हैं.’

हिंदी समाचार और अधिक ट्रेंडिंग न्यूज़ की जानकारी के लिए फॉलो करे The News Voice – Voice of Tomorrow

Leave a Reply