Covid-19 को लेकर गृह मंत्रालय ने राज्यों को किया ‘अलर्ट’, कन्टेनमेंट जोन बनाने की दी सलाह

देश में चल रहे कोरोना महामारी के बीच केंद्रीय गृह मंत्रालय (Union Home Ministry) ने राज्यों से कोरोना की पाबंदियों में ढील देने की प्रक्रिया को सावधानीपूर्वक क्रमबद्ध तरीके से लागू करने को कहा है. वहीं बता दे की गृह मंत्रालय ने कहा है कि कोरोना के मैनेजमेंट के लिए टेस्ट, ट्रेसिंग, ट्रीटमेंट, वैक्सीनेशन और कोरोना प्रोटोकॉल (Corona Protocol) की पांच सूत्री रणनीति पर ध्यान केंद्रित किया जाना जरुरी है.

इसके साथ ही गृह मंत्रालय ने राज्यों से कहा कि जिलों को प्रशासनिक यूनिट्स के रूप में देखते हुए संक्रमण के मामलों की दर और अस्पतालों में बेड्स के भरे होने की स्थिति पर नजर रखें. इसी बीच अगर संक्रमण की संख्या बढ़ने लगती है तो कन्टेनमेंट जोन बनाने की कार्रवाई करें.

वहीं केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला (Union Home Secretary Ajay Bhalla) ने जुलाई महीने के लिए कोरोना मैनेजमेंट पर सभी राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों को सलाह दी है. इसमें कहा गया है कि राज्यों को नियमित रूप से उन जिलों की निगरानी करनी चाहिए जहां प्रति 10 लाख जनसंख्या पर कोरोना वायरस (Coronavirus) के एक्टिव मामलों की संख्या अधिक है.

इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि कई राज्यों ने कोरोना वायरस के एक्टिव केस में कमी होने के साथ ही प्रतिबंधों में ढील देना शुरू कर दिया है. वहीं प्रतिबंधों में ढील देने की प्रक्रिया को सावधानीपूर्वक तय की जानी चाहिए और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी सलाह के अनुरूप राज्यों द्वारा फास्ट और टार्गेटेड कार्रवाई की जानी चाहिए.

इसी बीच कोरोना के रोकथाम के लिए सरकार लगातार कोरोना वैक्सीनेशन (Corona Vaccination) की गति को तेज कर रही है. वहीं अब तक देश भर में 33,25,81,423 लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है.

हिंदी समाचार और अधिक ट्रेंडिंग न्यूज़ की जानकारी के लिए फॉलो करे The News Voice – Voice of Tomorrow

Leave a Reply