Sukanya Samriddhi Yojana : सुकन्या समृद्धि योजना में करें निवेश और बेटियों के भविष्य को बनाएं उज्‍ज्‍वल

अगर आपके घर में एक छोटी बच्ची है और आप उसकी पढ़ाई या फिर शादी के वक्त एकमुश्त मदद पाना चाहते है तो आप केंद्र सरकार की सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) में निवेश कर सकते हैं. वहीं 10 साल से कम उम्र की बच्ची की शिक्षा और शादी के लिए केंद्र सरकार की सुकन्या समृद्धि योजना एक अच्छी निवेश योजना है.

वहीं इस योजना में निवेश कर आप इनकम टैक्स (income tax) भी बचा सकते है.

क्या है सुकन्या समृद्धि योजना ?

सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) केंद्र सरकार द्वारा बेटियों के लिए एक छोटी बचत योजना है जिसे बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ स्कीम (Beti Bachao-Beti Padhao scheme) के तहत लांच किया गया था. वहीं यह योजना छोटी बचत स्कीम में सबसे बेहतर ब्याज दर वाली योजना है. इस योजना में 7.6% फीसदी की दर से ब्याज दिया जा रहा है जो इनकम टैक्स छूट के साथ आता है.

वहीं इसे पहले इसमें 9.2 फीसदी तक ब्याज भी मिला है. वहीं यह योजना उन परिवारों को ध्यान में रखते हुए शुरू किया गया है जो छोटी बचत से अपने बच्चे की शादी और शिक्षा के लिए रकम जमा करते हैं.

सुकन्या समृद्धि योजना खाता कैसे खुलवाएं ?

सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) एकाउंट किसी बच्ची के जन्म लेने के बाद और 10 साल की उम्र से पहले कम से कम 250 रुपये के जमा के साथ खोला जा सकता है. वहीं इस योजना के तहत आप अधिकतम 1.5 लाख रुपये जमा कर सकते हैं.

कहां खुलेगा सुकन्या समृद्धि योजना खाता ?

सुकन्या समृद्धि योजना एकाउंट किसी पोस्ट ऑफिस या फिर कमर्शियल ब्रांच की अधिकृत शाखा में खुल सकता है.

सुकन्या समृद्धि योजना खाता को कब तक चलाना होगा ?

यह योजना बच्ची के 21 साल के होने या फिर 18 साल की उम्र के बाद उसकी शादी होने तक चलाया जा सकता है.

क्या है सुकन्या समृद्धि योजना का उपयोग ?

योजना खाते से 18 साल की उम्र के बाद बच्चे की उच्च शिक्षा के लिए खर्च के मामले में 50 फीसदी तक रकम निकाली जा सकती है.

क्या है सुकन्या समृद्धि योजना खाता खोलने के नियम ?

यह योजना बच्ची के माता-पिता या कानूनी अभिभावक द्वारा बच्ची के नाम से उसके 10 साल की उम्र से पहले खोला जा सकता है. वहीं इस नियम के अनुसार एक बच्ची के लिए सिर्फ एक ही खाता खोला जा सकता है.

किन जरूरी कागजात कि है जरूरत

सुकन्या समृद्धि योजना खाता खोलने के लिए बच्ची का बर्थ सर्टिफिकेट पोस्ट ऑफिस या फिर बैंक में देना जरूरी है. इसके साथ ही बच्ची और अभिभावक के पहचान पत्र और पते का प्रमाण भी देना जरूरी है.

सुकन्या समृद्धि योजना में कितनी रकम है जरूरी ?

इस योजना को खोलने के लिए 250 रुपये काफी हैं. इसके साथ ही किसी एक वित्त वर्ष में कम से कम 250 रुपये जरूर जमा कराया जाना चाहिए. वहीं इस खाते में 1.5 लाख रुपये से अधिक जमा नहीं कराया जा सकता है. इसके साथ ही इस खाते में रकम खाता खोलने के दिन से 15 साल तक जमा कराया जा सकता है.

अगर सुकन्या समृद्धि योजना में रकम जमा नहीं हो पाई तब ?

अगर इस योजना में कम से कम रकम जमा नहीं हुई है तो, उसे 50 रुपये सालाना की पेनाल्टी देकर नियमित कराया जा सकता है. इसके साथ ही हर साल के लिए कम से कम जमा कराई जाने वाली रकम भी सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट में डालनी पड़ेगी.

कैसे होगी सुकन्या समृद्धि योजना खाते में रकम जमा ?

इस खाते में रकम कैश, चेक, डिमांड ड्राफ्ट या ऑनलाइन हो सकती है. इसके लिए रकम जमा करने वाले का नाम और एकाउंट होल्डर का नाम लिखना जरूरी है. वहीं अगर सुकन्या समृद्धि योजना खाते में रकम चेक या ड्राफ्ट से जमा कर रहे है तो रकम खाते में क्लियर होने के बाद से उस पर ब्याज दिया जायेगा.

इस स्कीम में अब तक दिए गए ब्याज :

अप्रैल 1, 20149.1%
अप्रैल 1, 20159.2%
अप्रैल 1, 2016 से जून 30, 20168.6%
जुलाई 1, 2016 से सितम्बर 30, 20168.6%
अक्टूबर 1, 2016 से दिसम्बर 31, 20168.5%
जुलाई 1, 2017 से दिसंबर 31, 20178.3%
जनवरी 1, 2018 से मार्च 31, 20188.1%
अप्रैल 1, 2018 से जून 30, 20188.1%
जुलाई 1, 2018 से सितंबर 30, 20188.1%
अक्टूबर 1, 2018 से दिसंबर 31, 20188.5%
जनवरी 1, 2019 से मार्च 31, 20198.5%

मैच्योरिटी से पहले किन हालात में सुकन्या समृद्धि योजना खाता बंद किया जा सकता है ?

अगर इस खाता के धारक की मृत्यु हो जाये तो उनका डेथ सर्टिफिकेट दिखाकर आप खाते को बंद करवा सकते है. इसके बाद सुकन्या समृद्धि योजना खाते में जमा रकम बच्ची के अभिभावक को ब्याज सहित वापस दी जा सकती है. साथ ही दूसरे मामलों में एसएसवाई खाते को खोलने से पांच साल के बाद बंद किया जा सकता है.

सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट ट्रांसफर :

इस अकाउंट को आप देशभर में कहीं भी ट्रांसफर कर सकते है, अगर खाताधारक खाता खोलने की मूल जगह से कहीं और शिफ्ट हो गया है तो. अकाउंट ट्रांसफर फ्री ऑफ कॉस्ट है, पर इसके लिए उसके अभिभावक के शिफ्ट होने का सबूत दिखाना पड़ेगा. वहीं अगर इसके तरह कोई भी सबूत नहीं दिया गया तो अकाउंट ट्रांसफर के लिए पोस्ट ऑफिस या बैंक को 100 रुपये फीस चुकाना पड़ेगा.

सुकन्या समृद्धि योजना खाते से आंशिक रकम निकासी :

इस खाते से वित्तीय जरूरतें पूरी करने के लिए आंशिक निकासी की जा सकती है, इनमें उच्च शिक्षा और शादी जैसे काम शामिल हैं. इस योजना से यह निकासी तभी संभव है, जब एकाउंट होल्डर 18 साल की उम्र पार कर ले. अकाउंट से रकम निकालने के लिए एक लिखित आवेदन और किसी शैक्षणिक संस्थान में एडमिशन ऑफर या फीस स्लिप की जरूरत होती है.

कब होगा सुकन्या समृद्धि योजना एकाउंट मैच्योर ?

खाता खोलने के दिन से 21 साल पूरा होने या बच्ची की शादी होने के बाद यह एकाउंट मैच्योर हो जायेगा.

Leave a Reply