WHO on Delta Variant- WHO ने की अपील, कोरोना के डेल्टा वैरिएंट की लहर हो सकती है जानलेवा, टीकाकरण में लानी होगी तेजी

कोरोना वायरस के अब तक चार वैरिएंट देखने को मिल गए है। इसमें से सबसे खतरनाक वैरिएंट डेल्टा वैरिएंट को बताया गया है। ऐसे में डब्ल्यूएचओ(WHO) ने शुक्रवार को कहा कि कोविड -19 का डेल्टा वैरिएंट दुनिया के लिए एक चेतावनी है। इससे पहले इस वैरिएंट से स्तिथि खराब हो जाए वायरस को जल्दी से कम करना है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा कि भारत में पहली बार पाया जाने वाला कोरोना वायरस वैरिएंट अब दुनिया में 132 देशों फैल गया है।

डब्ल्यूएचओ के आपात निदेशक माइकल रयान ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, “डेल्टा एक चेतावनी है। यह एक चेतावनी है कि वायरस विकसित हो रहा है, लेकिन इसके लिए कुछ कदम उठाने होंगे जिसे हमें और खतरनाक वेरिएंट उभरने से पहले स्थानांतरित करने की आवश्यकता है।”

डब्ल्यूएचओ के प्रमुख Tedros Adhanom Ghebreyesus ने कहा: “कोरोना के चार संस्करण सामने आए हैं जो कि चिंता का कारण है और जब तक वायरस फैलता रहेगा तब तक और भी वैरिएंट सामने आ जाएंगे।

टेड्रोस ने कहा कि औसतन, छह डब्ल्यूएचओ क्षेत्रों में से पांच में पिछले चार हफ्तों में संक्रमण 80 प्रतिशत बढ़ गया। हालांकि कोरोना वायरस के डेल्टा वैरिएंट ने कई देशों को हिला दिया है, रयान ने कहा कि कोरोना को नियंत्रण में लाने के सिद्ध उपाय अभी भी काम कर रहे हैं – विशेष रूप से हाईजीन का ख्याल, अनावश्यक बाहर जाने से बचना , मास्क पहनना, हाथ की स्वच्छता यह उपाय करना अभी भी उतना ही जरुरी है।

इसे भी पढ़े – Coronavirus Delta Variant – रिपोर्ट में दावा , Corona का डेल्टा वैरिएंट चेचक जितनी आसानी से फैल सकता है

उन्होंने आगे कहा कि डेल्टा वैरिएंट एक तनाव का कारण बन गया है और इसको रोकने के लिए टीकाकरण में तेजी लाना जरुरी है। डब्ल्यूएचओ के मुताबिक वायरस अब भी तेजी से फैल रहा है। इसलिए हमें अपने गेम प्लान पर तेजी से काम करना होगा। इसके लिए वैक्सीनेशन सबसे जरूरी चीज है।

डब्ल्यूएचओ चाहता है कि हर देश सितंबर के अंत तक अपनी आबादी का कम से कम 10 प्रतिशत तक टीका लग जाना चाहिए। इस वर्ष के अंत तक कम से कम 40 प्रतिशत, और 2022 के मध्य तक 70 प्रतिशत तक वैक्सीन लग जानी चाहिए।

टीका के वितरण पर डब्ल्यूएचओ ने कहा कि अब तक वैक्सीन की चार अरब खुराक लोगों को दे दी चुकी है। इनमें से अत्यधिक अमीर देशों में प्रति सौ लोगों में से 98 लोगों का टीकाकरण कर लिया गया है जबकि 29 सबसे गरीब देशों में प्रति सौ में से 1.6 प्रतिशत लोगों को ही वैक्सीन मिली है।

इसे भी पढ़े – Corona Fourth Wave News- WHO ने दी चेतावनी, डेल्टा वैरिएंट के कारण मिडिल-ईस्ट में आई कोरोना की चौथी लहर

हिंदी समाचार और अधिक ट्रेंडिंग न्यूज़ की जानकारी के लिए फॉलो करे The News Voice – Voice of Tomorrow

One Comment on “WHO on Delta Variant- WHO ने की अपील, कोरोना के डेल्टा वैरिएंट की लहर हो सकती है जानलेवा, टीकाकरण में लानी होगी तेजी”

Leave a Reply