Taapsee Pannu Birthday : ‘पिंक’ से लेकर ‘थप्पड़’ तक एक्ट्रेस ने बॉलीवुड फिल्मों में अपनी जगह कि पक्की

बॉलीवुड एक्ट्रेस तापसी पन्नू (Actress Taapsee Pannu) आज यानि रविवार 1 अगस्त को अपना 34वां जन्मदिन मना रही हैं। वहीं डेविड धवन (David Dhawan) की कॉमेडी फिल्म ‘चश्मे बद्दूर’ (‘Chashme Baddoor’) से बॉलीवुड में डेब्यू करने वाली ‘आउटसाइडर’ ने ‘पिंक’ जैसी फिल्मों में दमदार परफॉर्मेंस देकर फिल्म इंडस्ट्री में खुद को स्थापित कर लिया है।

तापसी ने मॉडलिंग के साथ शोबिज में कदम रखा और बाद में 2010 की तेलुगु फिल्म ‘झुमंडी नादम’ (‘Jhumandi Naadam’) से अभिनय में कदम रखा। दो साल बाद तापसी ने हिंदी फिल्म में डेब्यू किया। हालांकि, अभिनेता अली जफर, सिद्धार्थ, दिव्येंदु शर्मा (Ali Zafar, Siddharth, Divyendu Sharma) अभिनीत कॉमेडी फिल्म दर्शकों को प्रभावित करने में विफल रही। यह भी पढ़े : Friendship Day 2021: इन Quotes, GIF Whatsapp स्टेटस और Facebook Wallpapers के ज़रिए, दोस्तों को कहें ‘हैप्पी फ्रेंडशिप डे’!

जबकि तापसी की पहली फिल्म ने ज्यादा ध्यान आकर्षित नहीं किया, यह अक्षय कुमार की 2015 की फिल्म ‘बेबी’ में उनका कैमियो था जिसमे उन्होंने सात मिनट के एक्शन सीक्वेंस ने दर्शकों का ध्यान आकर्षित किया।

2016 में, तापसी ने शूजीत सरकार के कोर्ट रूम ड्रामा ‘पिंक’ में अभिनय किया, जिसे उनका अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन माना जाता है। कोर्ट रूम के बाद, पन्नू ने ‘नाम शबाना’, ‘सांड की आंख’, ‘बदला’, ‘मनमर्जियां’ (Naam Shabana’, ‘Saand Ki Aankh’, ‘Badla’, ‘Manmarziyaan’) जैसी फिल्मों में उग्र किरदार निभाकर अपनी काबिलियत साबित की।

पिंक (Pink) :

2016 के कोर्ट रूम ड्रामा में तापसी पन्नू को मीनल नाम की दिल्ली की एक लड़की के रूप में दिखाया गया है, जो छेड़छाड़ के बाद एक राजनेता के भतीजे के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की कोशिश करती है। फिल्म में अमिताभ बच्चन, कीर्ति कुल्हारी, अंगद बेदी, एंड्रिया तारियांग, पीयूष मिश्रा और धृतिमान चटर्जी भी हैं।

‘पिंक’ में अपने सराहनीय प्रदर्शन के लिए, अभिनेत्री ने 64वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों में सामाजिक मुद्दों पर सर्वश्रेष्ठ फिल्म पुरस्कार जीता।

बदला (Badla):

तापसी ने अपने ‘पिंक’ सह-कलाकार अमिताभ बच्चन के साथ थ्रिलर के लिए फिर से काम किया, जिसे शाहरुख खान ने अपने बैनर रेड चिलीज एंटरटेनमेंट के तहत निर्देशित किया था।

फिल्म एक मर्डर के इर्द-गिर्द घूमती है, जिसमें तापसी का किरदार प्राथमिक संदिग्ध बन जाता है। अमिताभ एक आपराधिक वकील की भूमिका निभाते हैं, जिसे रहस्य सुलझाकर उसका बचाव करना और उसे बचाना है।

सांड की आंख (Saand Ki Aankh) :

प्रसिद्ध शार्पशूटर बहनों चंद्रो और प्रकाशी तोमर की बायोपिक है। यह फिल्म उन बहनों की यात्रा को दर्शाती है जो अपनी बेटियों को एक उज्ज्वल भविष्य की ओर प्रोत्साहित करने के लिए पुरुष प्रधान समाज से जूझ रही हैं।

तुषार हीरानंदानी निर्देशित फिल्म के लिए तापसी और भूमि को क्रिटिक्स बेस्ट एक्टर इन लीडिंग रोल (फीमेल) ऑफ फिल्मफेयर अवार्ड्स और स्क्रीन अवार्ड फॉर बेस्ट एक्ट्रेस (क्रिटिक्स) मिला।

थप्पड़ (Thappad) :

अनुभव सिन्हा के निर्देशन में, तापसी ने एक पारंपरिक भारतीय महिला की भूमिका निभाने के लिए अपनी ज्वलंत छवि को छोड़ दिया, जो अपने पति (पावेल गुलाटी द्वारा अभिनीत) द्वारा उसे थप्पड़ मारने के बाद खुद के लिए एक स्टैंड लेती है।

अपने शानदार प्रदर्शन के लिए, तापसी पन्नू ने सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का फ़िमफ़ेयर पुरस्कार जीता।

हसीन दिलरुबा (Haseen Dilruba) :

हाल ही में रिलीज हुई ‘हसीन दिलरुबा’ में तापसी और विक्रांत मैसी मुख्य भूमिका में हैं। मर्डर मिस्ट्री में, पन्नू ने एक नवविवाहित महिला रानी कश्यप की भूमिका निभाई, जो अपने पति की हत्या के मामले में मुख्य संदिग्ध है। फिल्म का निर्देशन विनिल मैथ्यू ने किया है और इसमें हर्षवर्धन राणे भी हैं।

मनोरंजन समाचार और अधिक ट्रेंडिंग न्यूज़ की जानकारी के लिए फॉलो करे.

Leave a Reply