Kamika Ekadashi 2021 Date : जानें कब है कामिका एकादशी, तिथि, मुहूर्त और महत्व

हिन्दू धर्म के कई त्योहार और व्रत सावन माह (month of Sawan) में ही आते हैं। वहीं इसमें से एक कामिका एकादशी (Kamika Ekadashi) व्रत भी है। हिन्दू पंचांग के अनुसार हर साल सावन माह के कृष्ण पक्ष (Krishna Paksha) की एकादशी के दिन कामिका एकादशी व्रत रखा जाता है।

वहीं इस वर्ष कामिका एकादशी व्रत 4 अगस्त, बुधवार के दिन पड़ रहा है। कामिका एकादशी के दिन भगवान विष्णु (Lord Vishnu) की विधि-विधान से पूजा की जाती है। वहीं माना जाता है कि जो भक्त सच्चे मन से साथ ही विधि-विधान से कामिका एकादशी का व्रत करते है, उन्हें विष्णु जी का आशीर्वाद प्राप्त होता है। यह भी पढ़े : Masik Karthigai 2021 : जानें कब है मासिक कार्तिगई, साथ ही इसका महत्व

कामिका एकादशी के दिन भगवान विष्णु की श्रीधर, हरि, विष्णु, माधव और मधुसूदन आदि नामों से भक्तिपूर्वक पूजा करनी चाहिए। वहीं कहा जाता है कि भगवान कृष्ण ने कहा था कि कामिका एकादशी के दिन जो व्यक्ति भगवान के सामने घी अथवा तिल के तेल का दीपक जलाता है, उसके पुण्यों की गिनती चित्रगुप्त भी नहीं कर पाते हैं। 

कामिका एकादशी 2021 मुहूर्त (Kamika Ekadashi 2021 Muhurta:) :

  • एकादशी तिथि का प्रारंभ 03 अगस्त दिन मंगलवार को दोपहर 12 बजकर 59 मिनट से
  • एकादशी तिथि का समापन 04 अगस्त दिन बुधवार को दोपहर 03 बजकर 17 मिनट पर
  • 05:44 बजे से लेकर अगले दिन 05 अगस्त को प्रात: 04:25 बजे तक सर्वार्थ सिद्धि योग है।

एकादशी व्रत का महत्व (Significance of Ekadashi fasting) :

कामिका एकादशी का व्रत करने से सभी पापों से मुक्ति मिल जाती है, वहीं भगवान विष्णु सभी कष्टों को दूर करते हैं। कामिका एकादशी का व्रत करने से आपको मनोवांचित फल प्राप्ति होती है।

इसके साथ ही बता दे कि कामिका एकादशी के दिन पूजन करने से पित्त प्रसन्न होते हैं और आने वाले सभी कष्ट दूर होते हैं। वहीं जो लोग सावन माह में भगवान विष्णु की पूजा करते हैं, माना जाता है कि उनके द्वारा गंधर्वों और नागों की पूजा भी संपन्न हो जाती है।

धार्मिक समाचार और अधिक ट्रेंडिंग न्यूज़ की जानकारी के लिए फॉलो करे The News Voice – Voice of Tomorrow

Leave a Reply