By Anupriya Choubey 

instagram

18 May 2021

Controversial web shows और बॉलीवुड फिल्में

सेक्रेड गेम्स 2- इस शो पर सिख समुदाय की भावनाएं आहत करने के इल्जाम लगे थे. दिल्ली के एमएलए मनजिंदर एस सिरसा ने सैफ अली खान के अपना कड़ा उतारकर समंदर में फेंकने वाले सीन पर आपत्ति जताई थी.

लिपस्टिक अंडर माय बुर्का:   इस फिल्म ने अपनी रिलीज से पहले काफी मुश्किलों का सामना किया था. सबसे पहले को CBFC ने इसे सर्टिफिकेट देने से ही मना कर दिया था. CBFC का कहना था कि इस फिल्म में काफी सेक्सुअल कंटेंट है और इसकी भाषा सही नहीं है.

पद्मावत- करणी सेना ने इस फिल्म की शूटिंग से लेकर रिलीज तक पर खूब हंगामा किया था. संजय लीला भंसाली के सेट्स को तोड़ा गया और सिनेमाघरों में भी तोड़फोड़ की गई. इसे बॉयकॉट करने के खूब नारे लगे और देशभर में हंगामा हुआ.

 जोधा अकबर: इस फिल्म को बहुत सारे बैकलैश का सामना करना पड़ा। इतना ही नहीं, फिल्म को राजस्थान, यूपी, हरियाणा और उत्तराखंड में रिलीज़ करने से प्रतिबंधित कर दिया गया था।

फना: फिल्म के रिलीज से पहले अभिनेता आमिर खान ने नर्मदा बांध की ऊंचाई बढ़ाने को लेकर एक बयान दिया था. जिसके बाद गुजरात में न सिर्फ फिल्म के रिलीज पर प्रतिबंध लगा दिया था बल्कि आमिर द्वारा प्रचार किए जाने वाले सभी उत्पादों को भी बैन कर दिया था.

माय नेम इज खान: इस फिल्म की रिलीज से पहले शाहरुख खान को काफी कुछ झेलना पड़ा था. फिल्म की रिलीज से पहले शाहरुख खान न्यू जर्सी गए थे, जहां उन्हें इमीग्रेशन अफसरों ने उनके नाम की वजह से रोक लिया था. भारतीय दूतावास की मदद से उन्हें जाने दिया गया. 

द डर्टी पिक्‍चर: यह फिल्‍म सबसे विवादित ऐक्‍ट्रेसेस में से एक सिल्‍क स्मिता की लाइफ पर बेस्‍ड है। फिल्‍म में विद्या बालन को काफी ज्‍यादा बोल्‍ड अवतार में दिखाया गया। जिस वक्‍त यह फिल्‍म रिलीज हुई, इस पर भी काफी विवाद हुआ और कहा गया कि इस तरह की फिल्‍में माहौल को खराब करती हैं।

  राम लीला:    इस फिल्म को लेकर पूरे देश में विवाद हुआ था. आरोप लगा कि फिल्म के नाम से धर्मिक भावनाएं आहत हो रही हैं. इसे लेकर देशभर में न सिर्फ प्रदर्शन हुए, बल्कि डायरेक्टर और एक्टर्स के खिलाफ केस तक दर्ज कराया गया. बाद में कोर्ट के निर्देश पर फिल्म का नाम गोलियों की रासलीलाः राम-लीला कर दिया गया

ओ माय गॉड: फिल्म में प्रमुख हिंदू देवताओं और भारतीय आध्यात्मिक परंपरा के चित्रण पर बहुत विवाद उत्पन्न हुआ। हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं को चोट पहुँचाने के लिए, प्रमुख अभिनेताओं, परेश रावल, अक्षय कुमाऔर फिल्म के निर्माताओं के खिलाफ शिकायत दर्ज किया गया।

अधिक जानकारी  और  समाचार के लिए