जानें, छोटी सी लौंग के हैं ये बड़े फायदे

By Anupriya Choubey 

लौंग का इस्‍तेमाल खास तौर पर भारतीय खाने में भरपूर मात्रा में किया जाता है. लौंग सिर्फ खाने का स्‍वाद और खुश्‍बू नहीं बढ़ाता बल्‍कि यह सेहत के लिए भी गुणकारी है. 

लौंग में मौजूद एंटीऑक्‍सीडेंट और एंटीबैक्‍टीरियल तत्‍व आपको सेहतमंद बनाए रखते हैं.

लौंग हड्डियों को मजबूत बनाने के साथ ही आपके स्‍कैल्‍प से डैंड्रफ भगाकर बालों की कंडिशनिंग भी करता है.

कहा जाता है कि लौंग कैंसर कोशिकाओं में होने वाली मौतों में आपको ट्यूमर और एड्स से बचाती है।

साइनस:  नाक में जलन से राहत दिलाने में लौंग बहुत फायदेमंद है. अगर लौंग को लंबे समय तक डाइट में शामिल किया जाए तो यह साइनस से काफी हद तक छुटकारा दिला सकता है.

मॉर्निंग सिकनेस : लौंग एंटीसेप्टिक है. यह अपच को ठीक करने के साथ ही आपको उल्‍टी और मिचली से भी राहत दिलाता है. यह प्रेग्‍नेंट महिलाओं के लिए तो बहुत ही गुणकारी है.

भगाए मुंहासे :  लौंग के तेल में एंटी-माइक्रोबियल प्रॉपर्टीज़ होती हैं. इस वजह से ये कील-मुंहासों को भगाने में काफी असरदार है. साथ ही यह इन मुंहासों को आपके चेहरे पर फैलने से भी रोकता है.

बढ़ाए इम्‍यूनिटी : लौंग आपकी इम्‍यूनिटी बढ़ाकर इंफेक्‍शन और सर्दी-जुकाम से आपकी रक्षा करता है. यह एंटी-ऑक्‍सीडेंट गुणों से भरपूर है.

सुधारे डाइजेशन :  लौंग गैस्ट्रिक रस के स्राव में सुधार लाकर पाचन की प्रक्रिया को सुधारता है. लौंग पेट की कई परेशानियों में फायदा करता है जैसे गैस, जलन, अपच और उल्‍टी.

दांत दर्द में राहत:  ज्‍यादातर टूथपेस्‍ट में लौंग एक प्रमुख इंग्रिडेंट होता है. ऐसा इसलिए क्‍योंकि लौंग दांत दर्द में राहत देता है. लौंग में कुछ समय के लिए दर्द को दबाने की ताकत होती है.

कंट्रोल करे डायबिटीज : आयुर्वेद में डायबिटीज के इलाज में लौंग का इस्‍तेमाल किया जाता है. यह ब्‍लड शुगर लेवल को कंट्रोल कर डायबिटीज के रोगियों को सेहतमंद बनाए रखता है.