आइये जाने कृष्णा के बारे में कुछ रोचक बातें

By Anupriya Choubey 

instagram 

भगवान श्री कृष्ण के बारे में जितना भी जानिए आपको कम ही लगेगा। हिंदू देवी-देवताओं में श्री कृष्ण का दर्जा सबसे अलग है।

instagram

श्री कृष्ण का जन्म रोहिण नक्षत्र में हुआ था। वो देवकी और वासुदेव की आठवीं संतान थे। वहीं कृष्ण का पालन-पोषण यशोदा ने किया था।

instagram 

श्री कृष्ण के गुरु संदीपनि थे। श्रीकृष्ण ने संदीपनि को उनका मरा हुआ बेटा गुरु दक्षिणा के रूप में दिया था।

instagram 

श्री कृष्ण की 16,108 पत्नियां थी। जिनमें से आठ उनकी रानियां थी। आठ रानियों से श्री कृष्ण के 80 बच्चे थे। श्री कृष्ण की पत्नी रुकमणी को लक्ष्मी का अवतार माना जाता है।

aaj tak 

बहुत कम लोग ये जानते हैं कि श्री कृष्ण ने देवकी के छह मरे हुए बच्चों को भी वापस बुलाया था।

instagram 

कृष्ण ने बुद्धि-कौशल के गिरि द्वारा गोप-गोपिकाओं, गौओं आदि की रक्षा की। इस प्रकार इन्द्र-पूजा के स्थान पर गोवर्धन पूजा की स्थापना की गई।

instagram 

श्री कृष्ण ने शिशुपाल का वध अपने सुदर्शन चक्र से किया था तब उनकी उंगली कट गई थी। उस समय द्रौपदी ने अपनी साड़ी के पल्ला फाड़कर श्री कृष्ण की उंगली पर बांध दिया था। तब श्री कृष्ण ने उनसे कहा था कि द्रौपदी मैं तुम्हारे एक-एक सूत का कर्ज उतारूंगा।

instagram 

श्री कृष्ण के साथ भले ही राधा का नाम जुड़ा हो लेकिन क्या आप जानते हैं कि किसी भी धर्मग्रंथ में राधा का जिक्र तक नहीं है। महाभारत या श्रीमद भगवत गीता दोनों में से किसी भी धर्मग्रंथ में उनका नाम नहीं लिया गया है।

instagram

श्री कृष्ण और बलराम की बहन सुभद्रा थी साथ ही सुभद्रा वासुदेव और रोहिणी की बेटी। बलराम उनकी शादी दुर्योधन से कराना चाहते थे जबकि बाकी लोग ऐसा नहीं चाहते थे। इस स्थिति से बचने के लिए श्री कृष्ण ने अर्जुन को सुभद्रा का अपहरण करने की सलाह दी।

instagram 

एकलव्य श्री कृष्ण का चचेरा भाई था। एकलव्य की मृत्यु कृष्ण के हाथों ही हुई थी।

instagram 

क्या आप जानते हैं अर्जुन अकेला ऐसा इंसान नहीं था जिसने श्री कृष्ण के मुंह से सबसे पहले बार गीता का सार सुना था। अर्जुन के साथ हनुमान जी और संजय ने भी गीता का सार सुना था। 

instagram 

अधिक समाचार और  अपडेट के लिए