क्रोनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज के लिए स्टेम सेल थेरेपी

BY: The News Voice

PINTEREST

क्रॉनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज एक बढ़ने वाली  फेफड़े की बीमारी है जिससे सांस लेना मुश्किल हो जाता है।

PINTEREST

COPD  के दो मुख्य प्रकार क्रोनिक ब्रोंकाइटिस और एम्फीजमा  हैं। COPD  में दोनों का संयोजन होता है।

PINTEREST

स्टेम सेल प्रत्येक जीव के लिए बहुत आवश्यक हैं और 3 विशेषताओं को साझा करते हैं: - नवीनीकरण - अनुकूलनशीलता - प्रतिकृति

PINTEREST

यह ब्लास्टोसिस्ट नामक मानव भ्रूण से प्राप्त होते हैं जो इन विट्रो निषेचन में उपलब्ध हैं।

PINTEREST

स्टेम सेल वयस्क शरीर में निष्क्रिय होते हैं और तब तक विभाजित नहीं होते जब तक कि किसी बीमारी या चोट से सक्रिय न हों। उनका उपयोग क्षतिग्रस्त को ठीक करने या फिर से भरने के लिए किया जा सकता है।

PINTEREST

स्टेम सेल का उपयोग सूजन को कम करने, नए फेफड़ों के ऊतकों के निर्माण और नई केशिकाओं के निर्माण को उत्तेजित करने के लिए किया जा सकता है

PINTEREST

FDA ने COPD के लिए स्टेम सेल उपचार को मंजूरी नहीं दी है और परीक्षण चरण II से आगे नहीं बढ़ा है

PINTEREST

मनुष्यों में क्लिनिकल परीक्षण से अभी तक संतोषजनक परिणाम नहीं दिखाई दिए है  जो जानवरों में देखे गए। 

PINTEREST

यदि यह उपचार सफल हो जाता है, तो दर्दनाक फेफड़ों के प्रत्यारोपण से गुजरने की कोई आवश्यकता नहीं होगी।

PINTEREST